कपड़ा रेडीमेड होजरी जूता के सैकड़ों व्यापारी 5% से बढ़ाकर 12% जीएसटी करने पर किया विरोध प्रदर्शन

आज दिनांक 26 नवंबर 2021 दिन शुक्रवार को जीएसटी काउंसिल के द्वारा 1 जनवरी 2022 से प्रस्तावित जीएसटी दर 5% से बढ़ाकर 12% करने के विरोध में कपड़ा रेडीमेड होजरी जूता के सैकड़ों व्यापारी अध्यक्ष अमरनाथ मिश्र के नेतृत्व में शाम 5 बजे रकाबगंज पुल पर जीएसटी काउंसिल का पुतला लेकर एकत्र हुई परंतु पुलिस बल के द्वारा पुतला छीन लिया गया।

लखनऊ रेडीमेड होजरी एसोसिएशन के अध्यक्ष अमरनाथ मिश्र ने व्यापारियों को संबोधित करते हुए बताया कि सरकार के द्वारा व्यापारियों से विरोध करने का हक भी छीना जा रहा है। 1 जनवरी 2022 से बचे हुए स्टाक पर आप सभी को 7% अधिक टैक्स चुकता करना पड़ेगा क्योंकि जो माल खरीद कर लाए हैं उस पर 5% ही टैक्स अदा किया है अर्थात आईटीसी का लाभ केवल 5% ही मिलेगा शेष 7% टैक्स सरकार को अपनी जेब से भरना पड़ेगा।

आप सभी प्रस्तावित टैक्स के विषय में सभी व्यापारियों में उपभोक्ता को बताए आपकी जेब पर 7% डाका पड़ने वाला है महंगाई की मार से आम उपभोक्ता परेशान है हर व्यक्ति की आवश्यक आवश्यकता में कपड़ा रोटी मकान आता है हम सभी लोग जो कपड़ा जूता बेचते हैं वह मध्यम एवं गरीब व्यक्ति पहनता है क्योंकि हम सभी के यहां 100 से 500 रुपए के बीच की ही रेंज बिकती है।

अतः हमारी सरकार से मांग है कि मध्यम एवम गरीब परिवारों को ध्यान में रखते हुए ₹1000 तक बिकने वाले वस्त्र जूता कपड़ा आप पर 5% जीएसटी दर ही रखी जाए।
मिश्र जी ने यह भी बताया कि यदि सरकार मांग नहीं मानती है तो जरूरत पड़ने पर पूरा लखनऊ सहित प्रदेश बंद कर आंदोलन किया जाएगा। सभी व्यापारियों ने एक स्वर से कहा कि प्रस्तावित दर हमें स्वीकार नहीं है। यदि 1 जनवरी से लागू हुआ तो इसका जवाब आने वाले चुनाव में हम सभी लोग देंगे।

नीरज गुप्ता ने संबोधित करते हुए बताया कि यह तो पहला कार्यक्रम है जब तक सरकार हमारी मांग को पूरा नहीं करेगी तब तक हम सभी इसी तरह आंदोलन करते रहेंगे। आप सभी लोग अपने सोशल मीडिया के माध्यम से आम उपभोक्ता एवं व्यापारियों को यह बताएं कि 7% जो टैक्स बढ़ रहा है वह आपकी जेब पर भारी पड़ेगा इसका जागरूकता अभियान चलाएं।

व्यापार मंडल के युवा अध्यक्ष मिश्रा ने कहा कि भारत गणतंत्र होने से आज तक कभी भी टेक्सटाइल एवम उपरोक्त वस्तुओं पर कर की दर सामान्य ही रही है 1 जनवरी से प्रस्तावित दर का कड़ा विरोध होना चाहिए।
अहियागंज व्यापार मंडल के युवा वरिष्ठ महामंत्री समीर जैन ने कहा कि छोटे-छोटे कारीगर 12% में कच्चा माल खरीद कर पुनः बेचना ऐसे में कंपनी से छोटे मझोले कारीगर प्रतिस्पर्धा नहीं कर पाएंगे जिससे कारण वह बाजार से बाहर हो जाएंगे।

मुख्य रूप से अध्यक्ष अमरनाथ में महामंत्री नीरज गुप्ता दीपक अग्रवाल अमित अग्रवाल नरेश कुमार नवीन मल्होत्रा प्रशांत गर्ग संजय अग्रवाल टैंचू आकाश गुप्ता हैप्पी सुबह सक्सेना विनय गुप्ता कुश मिश्रा समीर जैन सनी लालवानी दीपक गुप्ता ललित सुमानी वैभव गौरव जैन अभिषेक गुप्ता अमित शुक्ला वरुण गुप्ता सोनू जायसवाल सुधीर गुप्ता अजय पांडे सुमित दीक्षित संगम गुप्ता नीरज जयसवाल भानु प्रताप सिंह बाबी, के साथ सैकड़ों व्यापारी उपस्थित रहे

रिपोटर: हिमांशु वर्मा

By shiraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *