बिजनौर की झालू गौशाला मैं पशुओं का बुरा हाल-लापरवाही के चलते लगातार गायों की मौत

दरअसल मामला बिजनौर के झालू की सरकारी गौशाला का है। जिसकी देखरेख का जिम्मा अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद झालू का है। लेकिन गौशाला की हालत को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि यहां पर किस तरह से गायों की देखभाल हो रही है। देख कर ऐसा लगता है कि कई महीनों से कोई सफाई नहीं की गई है।

वह भूखे से मर रहे हैं और कई गायों की मौत के साथ साथ कई बीमार भी है।

वहीं दूसरी तरफ लोगों का कहना है के तकरीबन 1 हफ्ते में एक गाय की मौत हो जाती है। और वहीं दूसरी तरफ चारे का भी इंतजाम गायों के लिए नहीं किया जाता है। इसी के कारण गौशाला के पशुओं की दयनीय स्थिति बनी हुई है। और वह भूखे से मर रहे हैं और कई गायों की मौत के साथ साथ कई बीमार भी है। जिनका कोई ध्यान नहीं किया जा रहा है।

शिवसेना और बजरंग दल के लोगों ने गौशाला पर धरना प्रदर्शन किया जहां पर तहसीलदार।

वहीं दूसरी तरफ गौशाला की एक दीवार भी गिर गई जिसकी कोई मरम्मत नहीं की जा रही है इसी को लेकर शिवसेना और बजरंग दल के लोगों ने गौशाला पर धरना प्रदर्शन किया जहां पर तहसीलदार बिजनौर मौके पर पहुंचे और उन्होंने आश्वासन दिया इसकी जांच की जाएगी और रिपोर्ट जिलाधिकारी बिजनौर को सौंपी जाएगी बाहर हाल योगी जी के गौशालाओं की तमाम देखभाल के ऑर्डर यहां के अधिकारियों के लिए बौने साबित हो रहे हैं वही अधिशासी अधिकारी आलोक कुमार के व्यवहार से भी लोग काफी नाराज हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *