थाना ठाकुरगंज मौत के साये में पुलिसकर्मी-इन्स्पेक्टर के आफिस की गिरी फारसेलिंग

एक बार फिर थाना ठाकुरगंज की जर्जर पड़ चुकी बिल्डिंग में हादसा होते-होते बचा। थाना ठाकुरगंज की जर्जर पड़ चुकी बिल्डिंग का अभी कुछ दिन पहले गिरा था छज्जा, जिसके मलबे के नीचे दब कर कई गाड़ियां हुई थी क्षतिग्रस्त उसके बाद भी शासन प्रशासन के कान पर नहीं रेंगी जू ,जिसके चलते आज भी थाना ठाकुरगंज में बड़ा हादसा होते होते टला हैं। बताया जा रहा है कि थाना ठाकुरगंज के इंस्पेक्टर के ऑफिस की फॉर सेलिंग अचानक की गिर पड़ी। हर बार की तरह इस बार भी गनीमत रहा कि कोई भी जान माल का नुकसान नहीं हुआ।

लेकिन इंस्पेक्टर के रूम की हालत देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि जिस तरीके से ऑफिस की छत से पानी बरसात का चूता,

वही लोगों की माने तो बताया जा रहा है कि थाना ठाकुरगंज की बिल्डिंग में स्थित इंस्पेक्टर के ऑफिस की अचानक की छत की फॉर सेलिंग गिर पड़ी। अचानक फॉर सेलिंग गिरने से हड़कंप मच गया आनन-फानन में सभी लोग इंस्पेक्टर के ऑफिस की तरफ भागे। जब उन्होंने देखा कि छत की फॉर सेलिंग गिरी है और कोई भी हताहत नहीं हुआ है। तब जाकर सब ने सुकून की सांस ली लेकिन इंस्पेक्टर के रूम की हालत देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि जिस तरीके से ऑफिस की छत से पानी बरसात का चूता रहता है।कभी भी बड़े हादसे का रूप ले सकता है।

शासन प्रशासन की नींद खुल रही है और ना ही पुलिस विभाग के कान पर कोई भी जू रेंग रही है।

लगातार थाना ठाकुरगंज की जर्जर पड़ चुकी बिल्डिंग में बिल्डिंग का गिरना  चालू है। वहीं इसी जर्जर बिल्डिंग के नीचे मौत के साए के नीचे काम करने को मजबूर हैं थाना ठाकुरगंज के पुलिस कर्मी,कई बार हादसे होने के बावजूद भी ना तो शासन प्रशासन की नींद खुल रही है। और ना ही पुलिस विभाग के कान पर कोई भी जू रेंग रही है। इससे पहले भी कई बार जर्जर बिल्डिंग के चलते थाना ठाकुरगंज के अंदर हादसे हो चुके हैं। आखिर क्यों नहीं जर्जर पड़ चुकी बिल्डिंग को गिरा कर नई बिल्डिंग में आखिर क्यों नहीं थाने को शिफ्ट किया जा रहा है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *