पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने की नाबालिक रेप पीड़िता के परिवार की मदद-दिया न्याय का भरोसा

मथुरा के आला अधिकारी के द्वारा अपनी फरियाद ना सुने जाने के चलते मथुरा के रहने वाली नाबालिग रेप पीड़िता का परिवार पहुंचा पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के दरबार में जहां पहुंचकर नाबालिग रेप पीड़िता के परिवार वालों ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को जब बताया कि 1 साल पहले उनके ही परिवार की एक 12 वर्षीय नाबालिग बच्ची के साथ कुछ दबंगों ने रेप कर दिया था। जिसके बाद दबंग लगातार उनके परिवार को परेशान कर रहे हैं और पुलिस सुन नहीं रही है।पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने पूरी बात सुनकर नाबालिक रेप पीड़िता के परिवार की मदद दिया न्याय का भरोसा

पूर्व सीएम अखिलेश यादव द्वारा पीड़ित परिवार की मदद किए जाने पर परिवार वालों ने की जमकर तारीफ.

एक नाबालिग लड़की के परिवार की बात को सुनकर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने फौरन ही उनकी जहां एक ओर 10,000 की आर्थिक मदद की तो वहीं दूसरी तरफ उन्होंने पुलिस के आला अधिकारियों से इस मामले को संज्ञान में लेने की और कार्यवाही करने की बात कही, वही नाबालिग रेप पीड़िता की भाभी का कहना था कि वह लोग लगातार न्याय पाने के लिए दर-दर भटक रहे हैं। लेकिन उनकी मदद करने को कोई भी नहीं आया। दूसरी तरफ अखिलेश यादव द्वारा नाबालिग रेप पीड़ित परिवार की मदद किए जाने पर परिवार वालों ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की जमकर जहां तारीफ की तो वहीं उनमें न्याय की आस भी जगी।

नाबालिग रेप पीड़ित की भाभी का कहना था कि दबंग लगातार उनके घर को करना चाहते खाली.

अखिलेश यादव से मिलकर जब पीड़ित परिवार निकला तो पीड़ित परिवार ने बताया कि वहां लोग मथुरा के रहने वाले हैं। दबंगों ने 1 साल पहले उसकी 12 साल की नाबालिग ननद से रेप जैसी घटना कारित की थी। जिसके बाद उन्होंने इसकी f.i.r. थाने में भी दर्ज कराई थी। उसके बावजूद भी लगातार रेप करने वाले दबंग लोग उनके परिवार के ऊपर दबाव बना रहे हैं। जब पीड़ित परिवार थाने में इसकी शिकायत करता है तो उसकी एक न सुनी जाती है। उल्टा दबंग लोग उनके साथ जमकर मारपीट भी करते हैं। नाबालिग रेप पीड़ित की भाभी का कहना था कि दबंग लगातार उनके घर को भी खाली कराना चाहते हैं। इसकी कई बार शिकायत उन्होंने आला अधिकारी मेरठ से भी की लेकिन वहां कोई सुनवाई नहीं हुई।जिसके बाद आज वह लोग अखिलेश यादव से मिलने पहुंचे जहां पर उन्होंने उनकी मदद की वही उन्होंने कहा कि अगर उनको न्याय नहीं मिलेगा तो वह लोग आत्महत्या भी कर लेंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *