माँ ने लगाई तीन बच्चो के साथ मौत की छलांग-एक बच्चे को गया बचाया

पीलीभीत के बीसलपुर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम करखेड़ा के एक परिवार में चलते अंतर कलह के कारण महिला ने अपने तीन बच्चों के साथ देवा नदी में छलांग लगा कर आत्महत्या कर ली मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने महिला को छलांग लगाते देख वह भी नदी में कूद गए और उन्होंने महिला के सबसे छोटे बेटे को बचा लिया किंतु महिला बाद दो बच्चे नदी के तेज बाहों में बहते हुए चले गए घटना से पूरे गांव में सनसनी फैल गई।कोतवाली क्षेत्र के ग्राम कर्रखेड़ा में अर्जुन का परिवार अमन चैन के साथ रह रहा था पिछले कुछ दिनों से पति पत्नी में कटुता आने लगी जिसके चलते दोनों में धीरे-धीरे दूरियां बन गई और महिला अपने पति से इस कदर नाराज हो गई कि उसने बच्चों के साथ आत्महत्या करने का निर्णय ले लिया।

पहले अपनी बड़ी बेटी सहित तीनों को नदी में धक्का दे दिया इसके बाद सैलाब पर उमड़ रही नदी में खुद भी छलांग लगा दी.

इस निर्णय को वाह कुछ दिनों तक छुपाए रही और आज रविवार को मौका पाकर जब उसका पति बीसलपुर किसी कार्य से आया हुआ था इसी समय महिला ने अपने घर को बंद कर अपने साथ अपनी बेटी चंचल 7 वर्ष प्रशांत साडे 4 वर्ष वह प्रेम ढाई वर्ष को लेकर महिला सावित्री देवी गांव के पास बहने वाली देवा नदी के पास पहुंच गई और उसने क्षणिक समय में ही पहले अपनी बड़ी बेटी सहित तीनों को नदी में धक्का दे दिया इसके बाद सैलाब पर उमड़ रही नदी में खुद भी छलांग लगा दी छलांग लगाते समय पास ही खड़े कुछ ग्रामीणों ने यह हादसा देख लिया और उन्होंने डूबती हुई महिला व बच्चों को बचाने के प्रयास में खुद भी नदी में छलांग लगा दी।

गोताखोरों को नदी में उतारकर घंटों तलाश कराई किंतु महिला व उसके दो बच्चों का अभी तक पता नहीं चल सका।

काफी प्रयासों के बाद वह केवल महिला के सबसे छोटे पुत्र प्रेम कुमार कोई बचाने में सफल रहे महिला के बच्चों सहित नदी में मौत की छलांग लगाने की सूचना पाते ही कुछ ही देर में मौके पर सैकड़ों ग्रामीण एकत्र हो गए और उन्होंने आनन-फानन में पुलिस व प्रशासन को इस मामले की सूचना टेलीफोन द्वारा दी जिसके पश्चात सीओ ललन सिंह बात तहसीलदार आशुतोष कुमार मौके पर पहुंच गए और उन्होंने अपने साथ लाए गोताखोरों को नदी में उतारकर घंटों तलाश कराई किंतु महिला व उसके दो बच्चों का अभी तक पता नहीं चल सका इस घटना से गांव में मातम छा गया वहीं आसपास इलाके में सनसनी फैल गई।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *