नोडल अधिकारी ने कोविड एवं नान कोविड चिकित्सालयों का किया निरीक्षण

बहराइच। शासन द्वारा नियुक्त किये गए नोडल अधिकारी विशेष सचिव उ.प्र. शासन राकेश कुमार ने आज जिले का दौरा कर कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिए साप्ताहिक लाॅकडाउन का परीक्षण किया । इस दौरान नोडल अधिकारी ने लाॅकडाउन का पालन कराये जाने के लिए मार्गों एवं चौराहों का भ्रमण किया।उन्होंने देखा कि शासन की गाईडलाइन के अनुसार साफ-सफाई एवं सैनेटाईजेशन का कार्य कराया जा रहा है। यातायात पुलिस लोगों को अनावश्यक बाहर न निकलने व मास्क का प्रयोग करने को कह रही है।नोडल अधिकारी श्री कुमार द्वारा जिला चिकित्सालय स्थित एल-2हास्पिटल, एल-1 कोविड केयर सेन्टर, राजकीय महिला पाॅलीटेक्निक, रिसिया एवं नान कोविड एल-1 मिशन हास्पिटल का भी निरीक्षण कर वहां की व्यवस्थाओं का जांचा और परखा भी। वही एल-2 के जांच के दौरान डाॅ. राजदीप सिंह ने बताया कि यहाॅ पर 39 मरीज भर्ती है, जिसमे से 04 मरीजों को आज डिस्चार्ज किया गया है। वर्तमान में 35 मरीज़ हास्पिटल में भर्ती हैं।

कोविड सेन्टर में 68 मरीज़ थे जिसमें से आज 02 मरीज़ डिस्चार्ज किये गये वर्तमान में 66 मरीज भर्ती हैं।

डाॅ. सिंह ने बताया कि भर्ती मरीजों के उपचार हेतु तीन शिफ्ट में डाक्टर एवं स्वास्थ्य टीम की ड्यूटी लगायी गयी है। मरीज़ों को सुबह के नाश्ते में चना, चाय एवं पानी की बोतल उपलब्ध करायी गयी है। दोपहर के खाने में सब्जी, दाल, चावल, रोटी एवं सलाद दिया जायेगा एवं रात्रि भोजन में भी इसी प्रकार से भोजन उपलब्ध कराया जायेगा। इसके साथ ही एल-1 कोविड केयर सेन्टर राजकीय महिला पाॅलीटेक्निक के निरीक्षण के समय मौजूद डाॅ. विभोर ने बताया कि, कोविड सेन्टर में 68 मरीज़ थे जिसमें से आज 02 मरीज़ डिस्चार्ज किये गये वर्तमान में 66 मरीज भर्ती हैं। इन भर्ती मरीजों के उपचार हेतु तीन शिफ्ट में डाक्टर एवं स्वास्थ्य टीम की ड्यूटी शिफ्टवार लगायी गयी है। इस अवसर पर नोडल अधिकारी ने मरीज़ों के उपचार एवं खानपान के बारे में भी जानकारी प्राप्त करते हुए मौजूद अधिकारियों को निर्देश दिया कि भर्तीं मरीज़ों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं होनी चाहिए।

अनिवार्य रूप से चेहरे पर मास्क एवं हाथों के लिये जरूर सैनिटाइज़र का प्रयोग किया जाय।

मिशन हास्पिटल, बहराइच के निरीक्षण के दौरान डाॅ. विप्रा के द्वारा बताया गया कि हास्पिटल में 20 मरीज भर्ती थे जिसमें से आज 04 मरीजो को डिस्चार्ज किया गया है। वर्तमान में 16 मरीज भर्ती हैं। जिसमें से कोई मरीज गम्भीर प्रकृति का नहीं है। डाॅ. पाण्डेय ने बताया कि भर्ती मरीजों के उपचार हेतु तीन शिफ्ट में डाक्टर एवं स्वास्थ्य टीम की ड्यूटी लगायी गयी है। नोडल अधिकारी ने निर्देश दिया कि भर्ती मरीज़ों को शासन द्वारा अनुमन्य सभी सुविधाएं प्रदान की जाएं।
कोविड एवं नान कोविड चिकित्सालयों के निरीक्षण के दौरान नोडल अधिकारी श्री कुमार ने मौजूद चिकित्सकों को निर्देश दिया कि कोविड-19 के दृष्टिगत प्रतिदिन चिकित्सालय परिसर को सेनिटाइज और साफ-सफाई कराया जाय। साथ ही उन्होंने यह भी अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देश दिया कि डॉक्टर, पैरा मेडिकल स्टाफ के साथ साथ मरीज़ों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन करते हुए अनिवार्य रूप से चेहरे पर मास्क एवं हाथों के लिये जरूर सैनिटाइज़र का प्रयोग किया जाय। श्री कुमार ने यह भी निर्देश दिया कि सभी मरीजों, अधिकारियों व कर्मचारियों की नियमित रूप से पल्स आक्सीमीटर एवं इन्फ्रारेड थर्मामीटर द्वारा जाॅच की जाये। निरीक्षण के समय नोडल अधिकारी के लाइज़न आफिसर पंकज शर्मा मौजूद रहे।

*रिपोर्ट-शादाब हुसैन*

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *