अस्थाई जेल के क्वॉरेंटाइन सेंटर के जीने का दरवाजा तोड़कर फरार हुए चार कैदी-अधिकारियों में हड़कम्प

क्वॉरेंटाइन सेंटर से चारों कैदियों के भागने की घटना कहीं ना कहीं पुलिस की मुस्तैदी पर भी सवालिया।

आपको बता दें कि कोरोना वायरस को देखते हुए जहां एक तरफ शासन प्रशासन लगातार कोविड-19 की गाइडलाइंस के मुताबिक काम करता हुआ नजर आ रहा है। इसीको देखते हुए बिजनौर का आश्रय स्थल को जिला प्रशासन ने अस्थाई जेल का क्वॉरेंटाइन सेंटर भी बनाया गया है। यहां पर जेल जाने से पहले अपराधियों को कोरोना वायरस को देखते हुए यहां पर रखा जाता है। बताया जा रहा है कि 4 कैदी आज जेल की अस्थाई क्वॉरेंटाइन सेंटर के जीने का दरवाजा तोड़कर फरार हो गए हैं।

पब्जी और चीनी ऐप पर मोदी सरकार के फैसले का देवबंदी उलेमा ने किया स्वागत।

अस्थाई जेल के क्वॉरेंटाइन सेंटर से बताया जा रहा है कि सुबह तड़के चारों कैदियों ने पहले तो जीने का दरवाजा तोड़ा और बाद में मौके से फरार हो गए। वही कैदियों के फरार होने से जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में मौके पर पुलिस के आला अधिकारी पहुंचे। जहां पर उन्होंने मौके का मुआयना किया और फौरन ही जिले की सारी पुलिस को अलर्ट कर दिया। जगह-जगह पर चेकिंग अभियान अपराधियों को पकड़ने के लिए चलाया जाने लगा।

नहाते वक्त भाभी की देवर ने बनाई वीडियो-किया दुष्कर्म पहुंचा सलाखों के पीछे-पढ़ें पूरी वारदात।

बताया जा रहा है कि पुलिस को उस तक कामयाबी हासिल हुई जब एक कैदी को मौके से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। तो वहीं दूसरे को चेकिंग के दौरान पुलिस ने पकड़ने में कामयाबी हासिल की लेकिन बताया जा रहा है कि पुलिस की पकड़ से फिलहाल बाकी के दो कैदी अभी भी फरार है। जिसको लेकर पुलिस प्रशासन की काफी जग हंसाई हो रही है। अस्थाई जेल के क्वॉरेंटाइन सेंटर से चारों कैदियों के भागने की घटना कहीं ना कहीं पुलिस की मुस्तैदी पर भी सवालिया निशान खड़े कर रही हैं। दूसरी तरफ पुलिस भागे हुए दोनों कैदियों को ढूंढने के लिए लगातार प्रयास करते हुए भी दिख रही है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *