लखनऊ-पुलिस ने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को लिया हिरासत में-मोमबत्ती जलाकर बेरोजगारी के खिलाफ जता रहे थे रोष

कांग्रेस1

वह सरकार के खिलाफ बेरोजगारी मुद्दे और अन्य मुद्दों को लेकर अपना धरना प्रदर्शन करना नहीं छोड़ेंगे..

आज देश में बढ़ रही बेरोजगारी और अन्य ज्वलनशील मुद्दों को लेकर जहां अन्य पार्टियां लगातार सरकार को घेरती हुुुुई नजर आ रही है। तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने राजधानी लखनऊ के हजरतगंज स्थित श्रीराम टावर के पास एक मोमबत्ती जलाकर शांति मार्च निकालना चाहा। जिसको लेकर मौके पर पुलिस पहुंच गई पुलिस ने सभी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेते हुए पुलिस जीप में बिठा ले गई। बताया जा रहा है कि जब पुलिस की बात ना मानकर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने शांति जुलूस निकालने की जिद की तो पुलिस को मजबूरन हल्का बल प्रयोग करते हुए कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को पुलिस जीप में बिठाकर हिरासत में ले लिया।

अपना पासपोर्ट पर फोटो देखकर बोली महिला-जैसे क्राइम कर बाहर भागने की हो फिराक मे..

कांग्रेस
देश मे लगातार द्वारा बढ़ती हुई महंगाई और बेरोजगारी को देखते हुए पहले भी कई बार सरकार को घेरने का प्रयास किया जा चुका है। जिसके तहत आज बेरोजगारी मुद्दे को लेकर काग्रेस के साथ अन्य विपक्ष के लोगों ने 9:09 रात को घरों की लाइट और घरों पर दिए जलाने की बात कही है। जिससे सरकार तक बेरोजगारी जैसे मुद्दे को लेकर हम अपनी पहुंच बना पाए और उन तक अपनी बात रख पाएं। इसी को देखते हुए आज लखनऊ में भी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने मोमबत्ती जलाकर बेरोजगारी मुद्दे को लेकर अपना रोष व्यक्त करना चाहा। लेकिन मौके पर पुलिस पहुंच गई और पुलिस ने इनको अपने बलपूर्वक खदेड़ दिया और कुछ को हिरासत में ले लिया।

किन्नर को लड़की बता कर युवक के साथ कर दी शादी सुहागरात में खुला राज..

अचानक विधानसभा से कुछ ही दूरी पर स्थित हजरतगंज के श्रीराम टावर पर पहुंचे दर्जनों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा कैंडल मार्च निकाले जाने की सूचना पर पुलिस हरकत में आई और तुरंत ही श्रीराम टावर पर पहुंची। जिसके बाद कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा बेरोजगारी मुद्दे को लेकर सरकार के खिलाफ निकाले जा रहे कैंडल मार्च को रोकना चाहा। जब कांग्रेसी कार्यकर्ता नहीं रुके तो पुलिस ने उनको हिरासत में भी ले लिया। वहीं कांग्रेसी कार्यकर्ताओं का कहना था कि चाहे जो भी हो जाए वह सरकार के खिलाफ बेरोजगारी मुद्दे और अन्य मुद्दों को लेकर अपना धरना प्रदर्शन करना नहीं छोड़ेंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *