कर्बला में हुआ चमत्कार-पेड़ से निकलने लगा पानी-लोगों ने माना दैवीय चमत्कार

कर्बला के पेड़ से निकल रहे चमत्कारी पानी को पीने से लोगों ने बताया कि कोरोनावायरस बीमारी भी इससे दूर हो जाती है।

बहराइच में एक अचंभित कर देने वाली घटना सामने आई है। जहां पर बताया जा रहा है कि एक कर्बला के अंदर लगे हुए पेड से अचानक पानी गिरने लगा। कर्बला के पेड़ से अचानक गिर रहे पानी को लेकर लोगों में अंधविश्वास भी जग गया। लोग पेड़ से गिर रहे बूंद-बूंद पानी को पेड़ के नीचे पन्नी लगाकर बोतलों में भरते हुए नजर आए। कर्बला में लगा हुआ यह पेड़ अब तमाम मर्ज की दवा बन चुका है। क्योंकि पेड़ से निकलते हुए पानी को लेकर लोगों की अंधविश्वास की भावनाएं जागृत हो गई है। और उन लोग पेड़ से निकलने पानी को ले जाकर अपने पास रख रहे हैं और इसे चमत्कार मान रहे हैं।

प्रेम विवाह करना पड़ा महंगा प्रेमी को बंधक बनाकर सिगरेट से जलाया।

कर्बला
नानपारा वन रेंज के भकुरहा कर्बला मेला के पेड़ से अचानक पानी गिरने की घटना सुनकर लोग सैकड़ों किलोमीटर दूर से कर्बला पहुंच रहे हैं। यहां पहुंचकर पेड़ के नीचे पन्नी लगाकर उसके पानी को एकत्र कर करें अपने साथ ले भी जा रहे हैं। वही लोगों का अंधविश्वास है कि इस पेड़ के पानी से हर तरह का मर्ज दूर होता है। चमत्कारी पेड़ के चलते कर्बला क्षेत्रों का मेला में लगने लगा है। लोग पहले तो मजार पर जाते हैं और वहां अपनी मुरादे मांगते हैं। पेड़ के नीचे आकर उसके पानी को लेकर बोतल में भरकर प्रसाद के तौर पर अपने साथ ले जाते हैं। वहीं पेड़ से निकल रहे पानी को लेकर काफी दूर तक इसकी चर्चाएं हो रही है। कर्बला के अंदर से निकलता पानी को देख लोग हैरान भी हैं साथ लोगों में पेड से निकल रहे पानी को लेकरअंधविश्वास भी जगा है लोगों का कहना है कि बड़े से बड़े मर्ज की दवा है यह पानी।

अपना पासपोर्ट पर फोटो देखकर बोली महिला-जैसे क्राइम कर बाहर भागने की हो फिराक मे।

कर्बला के पेड़ से निकल रहे चमत्कारी पानी को पीने से लोगों ने बताया कि कोरोनावायरस बीमारी भी इससे दूर हो जाती है। लोगों पेड से निकल रहे पानी को लेकर काफी अंधविश्वास बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा था। बताया जाता है कि सूचना फारेस्ट अधिकारियों को भी दी गई फॉरेस्ट विभाग के अधिकारियों ने बताया कि यह कोई दैवीय चमत्कार नहीं है। क्योंकि यहां का वाटर लेवल बहुत ही कम है जिसके चलते पेड़ की पानी को सोख लेता हैं। और पानी वाष्पीकरण होकर पेड़ के जरिए नीचे गिरता हैं। यह सामान प्रक्रिया है यह कोई दैवीय चमत्कार नहीं है। वही कर्बला के पेड़ों से निकलते हुए पानी की वजह से कर्बला मैं सैकड़ों लोगों की भीड़ भी लगना शुरू हो गई है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *