उत्तर प्रदेश में स्टांप पेपर हुआ बंद अब आप कैसे खरीदेंगे स्टांप पेपर जाने खबर में

पेपर

सरकार साथ ही ई स्टाम्प को बढ़ावा देने और उनके विक्रेता को  सरकार के द्वारा अच्छा कमीशन भी दिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश से सबसे बड़ी खबर यह निकल कर सामने आ रही है कि अब यूपी के अंदर स्टांप पेपर पूरी तरीके से बंद कर दिए जा रहे हैं। अब भौतिक स्टांप पेपर की जगह ई स्टांप पेपर का सरकार ने चलाने के दिया है आदेश। जिसमें आप स्टांप पेपर कागज पर खरीद के नहीं इंटरनेट के जरिए ऑनलाइन आप इसकी खरीद और फरोख्त कर सकते हैं। ई-स्टांप पेपर को चलन में लाने से सरकार की तरफ से बताया जा रहा है कि राजस्व में कई करोड़ रुपए का फायदा होगा और कई लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

धान-गेहू काटने वाले के साथ महिला अपने बच्चों संग हुई फरार-पति पहुचा थाने

पेपर1
बताया जा रहा है कि इस वित्तीय वर्ष में स्टाम्प छपाई का कोई ऑर्डर भी नहीं दिया गया है। ई-स्टाम्प को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने यह कदम उठाया है।इसके साथ ही ई-स्टाम्प की बिक्री के लिये विक्रेता को चयनित भी किए जायगा। ऑनलाइन स्टाम्प पेपर होने से 10 हजार बेरोजगार को बताया जा रहा कि चयनित किया जायेगा। भौतिक स्टांप पेपर को बंद करके e-stamp पेपर को चलन में लाने से कहा गया है कि राजस्व को भारी मुनाफा होने की आशंका है। मोटे तौर पर लगभग 100 करोड़ रूपए बचाएगी सरकार साथ ही ई स्टाम्प को बढ़ावा देने और उनके विक्रेता को  सरकार के द्वारा अच्छा कमीशन भी दिया जाएगा।

रायबरेली कांग्रेस विधायक अदिति सिंह की बहन ने वाहन चेकिंग पर-दरोगा को लगाई फटकार वीडियो वायरल।

वैसे फिलहाल अब तो यह तो आने वाला समय बताएगा कि आखिर भौतिक स्टांप पेपर को बंद करके ई स्टांप पेपर को चलन में लाने से सरकार और राजस्व को कितना फायदा होता है। यह तो देखने वाली बात होगी लेकिन स्टांप पेपर के खरीदारों के लिए शायद कुछ मुश्किलें हो जिसको लेकर सरकार को पहले से तैयारी भी करनी पड़ेगी। तभी जाकर सरकार द्वारा चलाई जा रही है यह योजना कारगर साबित हो सकती हैं। वही 1 लाख के स्टाम्प पर 115 रुपए कमीशन भी सरकार विक्रेता को देगी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *