लखनऊ- मुग़ल म्यूज़ियम का नाम बदलने पर बोले मुस्लिम धर्मगुरु, नाम बदलने से इतिहास नही बदलता

मुगल

मुगलों ने इस देश पर राज किया इस देश को अपना बनाया इस देश मे तमाम धरोहरें मुगलों की बनाई हुई है।

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगरा में बन रहे मुग़ल म्यूज़ियम का नाम बदलकर छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम पर रखने का सोमवार को एलान किया है। सीएम के फैसले पर मुस्लिम धर्मगुरु ने टिप्पड़ी करते हुए कहा कि नाम बदलने से इतिहास नही बदलता और मुगलकाल में ही देश की सीमा अफ़ग़ानिस्तान से लेकर बंगलादेश तक सुरक्षित थी।
मुगल1
मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने सोमवार को कहा था कि गुलामी की मानसिकता के प्रतीक चिन्हों को छोड़, राष्ट्र के प्रति गौरवबोध कराने वाले विषयों को बढ़ावा देने की आवश्यकता है। साथ ही हमारे नायक मुगल नहीं हो सकते। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज हमारे नायक है। आगरा के ताज महल के पूर्वी गेट पर बन रहे संग्रहालय का नाम मुग़ल म्यूज़ियम की जगह छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम पर होगा। सीएम के इस फैसले पर बयान देते हुए मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना इमरान हसन सिद्दकी ने कहा कि नाम बदलने से इतिहास नही बदल सकता। भारत में मुगलकाल स्वर्णिम काल था और मुगलों के दौर में मानसरोवर भी भारत का हिस्सा था।
लेकिन आज मानसरोवर चीन के हिस्से में है और सरकार में इतनी ताकत नही है कि चीन से उसको वापस ले सकें। मौलाना इमरान हसन ने कहा कि मुगलकाल में देश सबसे ताकतवर देशों में शुमार था और भारत की सीमा अफ़ग़ानिस्तान से लेकर बांग्लादेश तक होती थी लिहाज़ा नाम बदल देने की सियासात से कुछ हासिल होने वाला नही है। मौलाना ने कहा कि पूरी दुनिया यह जानती है कि मुगलों ने इस देश पर राज किया और इस देश को अपना बनाया साथ ही इस देश मे तमाम धरोहरें मुगलों की बनाई हुई है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *