हाथरस कांड के आरोपियों के परिजनों से मिले निर्भया दोषियों के वकील-62 काल की लड़की ने…

Vakil aropi
हाथरस कांड के आरोपियों के परिजनों से आज मिलने पहुचे निर्भया दोषियों के वकील और अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा का प्रतिनिधि मंडल के साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री मानवेन्द्र सिंह जहा पर उन लोगो ने कहा कि 62 बार काल करके लड़की ने बात की थी आरोपी और मृतक लड़की मे चक्कर भी चल रहा था। वही निर्भया के दोषियों के वकील ने हाथरस के आरोपियों के परिवार से मिलकर कहा की हाथरस पीड़ित लड़की के साथ कोई भी रेप की घटना नही हुई है। इसके आगे बोलते हुए उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले में आरोपी बनाए गए युवकों को फंसाने की कोशिश की जा रही है जबकि मरने से पहले हाथरस कांड की पीड़िता लड़की ने संदीप नाम के लड़के का नाम लिया था और गांव में संदीप नाम आरोपी युवक का है तो वही संदीप नाम मृतका के भाई का भी है।

फिल्म अभिनेत्री सना खान ने छोड़ी फ़िल्म इंडस्ट्रीज-कहा इस्लाम के मुताबिक दूसरों के आऊंगी काम

 Nirbhya
निर्भया के दोषियों का केस लड़ने वाले वकील एपी सिंह हाथरस पहुंचे और उन्होंने हाथरस के आरोपियों के परिजनों से मुलाकात की है। आरोपियों के परिवार से मिलकर वकील एपी सिंह ने कहा कि पूरी तरह से हाथरस कांड के आरोपी युवकों को झूठा फंसाया गया है। पुरानी रंजिशों की बदले उन्हें झूठा फंसाया गया है। उन्होंने कहा कि 104 फोन कॉल ने खुद बयां किया है की 62 कॉल लड़की की तरफ से की गई है। इस पर कोई परिवार वाला नहीं बोल रहा है। उन्होंने दुष्कर्म पर कहा कि सीएफएसएल रिपोर्ट और मेडिकल रिपोर्ट से साफ हो गया कि दुष्कर्म नहीं हुआ है।वही हाथरस कांड के आरोपियों के परिजनों से मिले निर्भया दोषियों के वकील ने हाथरस कांड की पीड़ित लड़की द्वारा 62 काल करने को लेकर सवाल भी उठाए।

हदोई-5 वर्षीय मासूम बच्ची के साथ टीचर के भाई ने किया रेप, पुलिस ने किया गिरफ्तार

साथ ही निर्भया कांड के दोषियों के वकील एपी सिंह ने हाथरस कांड के आरोपियों के परिवार से मुलाकात करते हुए आगे नार्को टेस्ट होने के सवाल पर कहा की आखिर उसे क्यों नहीं कराया जा रहा है। नार्को टेस्ट से सारी सच्चाई का पता चल जाएगा। निर्भया कांड के दोषियों के वकील ने हाथरस की बिटिया के प्रकरण में आज सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ बकील ए पी सिंह ने आरोपी युवकों के परिजनों से मुलाकात की है। उनके साथ अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा का एक प्रतिनिधि मंडल भी शामिल रहा। प्रतिनिधि मंडल में पूर्व केंद्रीय मंत्री मानवेन्द्र सिंह भी शामिल थे। उन्होंने प्रकरण की जांचों पर संतुष्टि जताई है। उन्होंने कहा है कि जो लोग इस केस के द्वारा राजनीतिक रोटियां सेकना चाहते है और प्रदेश तथा देश में जातिगत विद्वेष फैलाकर विध्वंश करना चाहते है इस आधार पर यह केस दर्ज किया गया है।

https://amzn.to/3nBDu0u

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *