Home कानून व्यवस्था गोंडा-तीन बहन पर एसिड अटैक मामला-आरोपी इनकाउंटर पर सवाल बन्द की बाजार

गोंडा-तीन बहन पर एसिड अटैक मामला-आरोपी इनकाउंटर पर सवाल बन्द की बाजार

गोंडा-जहां तीन सगी बहनों पर हुए एसिड अटैक के मामले ने तूल पकड़ लिया है। तो वही मुठभेड के दौरान गिरफ्तार किए गए आरोपी के पक्ष में पसका गांव के लोग लामबंद हो गए हैं और उसे निर्दोष बताया जा रहा है।आरोपी के पक्ष में आज पसका बाजार में पूरी तरह बंदी रही यहां की सभी दुकाने गाँव के लोगो ने बन्द कर रखी और पुलिस के खुलासे को फर्जी बताते हुए अपना गुस्सा जाहिर किया। वहीं आरोपी के परिजनों ने अपने बेटे को निर्दोष बताते  हुए सीएम योगी आदित्यनाथ से इस पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की है। परिजनों का कहना है कि पुलिस असली आरोपी को बचा रही है।

मुरादाबाद-तमंचे के बल पर लाखो रुपए के जेवरात की लुट-बदमाशो ने कहा जान दो या जेवरात

 बाजार
जहां एक और एसिड अटैक का शिकार हुई पीड़िता का पूरा गांव आरोपी के पक्ष में दिख रहा है और पुलिस के ऊपर सवालिया निशान खड़े कर रहा है तो दूसरी तरफ गांव वालों ने फर्जी इनकाउंटर के चलते सभी बाजार बन्द रखी। वहीं इस पूरे मामले में एनकाउंटर में पकड़े गए आरोपी के परिवार वालों ने बताया गया कि एसिड अटैक  मामले में उनके बेटे को पहले घर से उठाया गया और फिर से जाकर उसकी एनकाउंटर कर दिया गया। परिजनों का कहना है कि अगर मामले की निष्पक्ष जांच नहीं कराई जाती तो वह सामूहिक आत्मदाह कर लेंगे। आपको बता दें कि पीड़ित बहने व पकड़ा गया आरोपी एक ही गांव के हैं लेकिन जिस तरह से आरोपी के पक्ष में पूरा गांव एकजुट होकर खड़ा हुआ है उसने पुलिस के खुलासे पर सवाल खड़ा कर दिया है।

मुरादाबाद-दो सगी बहनों की युवकों ने छेड़छाड़ और पिटाई- बनाई वीडियो वायरल करने की धमकी

आपको बताते चलें कि गोंडा में कल तीन बहने अपने कमरे में सो रही थी तभी बताया गया कि कमरे के अंदर बल्ली लगाकर कोई घुस आया और उनके ऊपर एसिड अटैक कर कर फरार हो गया। जिसके बाद एसिड से जली हुई लड़कियों को हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था और पीड़ित लड़कियों के पिता की तरफ से थाने में रिपोर्ट भी दर्ज कराई गई। जिसके बाद पुलिस की काफी फजीहत भी होते हुई नजर आई यहां तक की पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एसिड अटैक की शिकार हुई पीड़ित बहनों की आर्थिक मदद भी की जिसके बाद पुलिस ने आनन-फानन में एक आरोपी को एनकाउंटर करते हुए गिरफ्तार भी किया। लेकिन पुलिस की इस गिरफ्तारी को पूरी तरीके से फर्जी बताते हुए गांव वालों ने पुलिस के खिलाफ ही बिगुल फूंक दिया और सभी बाजार बन्द कर दी। अक्सर पुलिस के एनकाउंटर पर सवाल उठते रहते हैं लेकिन जिस तरीके से गोंडा में पुलिस ने इनकाउंटर किया है और उसके ऊपर पूरे गांव वालों ने सवालिया निशान खड़े किए हैं। उससे कहीं ना कहीं फिर से एक बार जनता के बीच पुलिस का इंकलाब गिरता हुआ और विश्वास घटता हुआ नजर आ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

राष्ट्रीय सामाजिक संगठन ने गुस्ताख ए रसूल के सिलसिले में फ्रांस के राष्ट्रपति की जलाई तस्वीर

लखनऊ -गुस्ताख ए रसूल के सिलसिले में फ्रांस के राष्ट्रपति की जलाई गई तस्वीरें राष्ट्रीय सामाजिक संगठन ने गुस्ताख ए रसूल के सिलसिले...

जश्न ईद मिलादुन्नबी का नही निकला ऐतिहासिक जुलूस, जॉइंट कमिश्नर ने लखनऊ की जनता का अदा किया धन्यवाद

जश्न ईद मिलादुन्नबी का नही निकला ऐतिहासिक जुलूस, जॉइंट कमिश्नर ने लखनऊ की जनता का अदा किया धन्यवाद जॉइंट कमिश्नर ने लखनऊ की...

पूरी दुनिया समेत भारत मे भी, पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब, की शान में गुस्ताखी को लेकर प्रदर्शन

पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब, की शान में गुस्ताखी को लेकर देवबंद में जोरदार प्रदर्शन पूरी दुनिया समेत भारत मे भी, पैगंबर हजरत मोहम्मद...

यूपी में कोरोना जांच हुई 40 फ़ीसदी तक सस्ती- ₹600 में होगी अब जांच, कई जांच हुई मुफ्त

यूपी में कोरोना जांच हुई 40 फ़ीसदी तक सस्ती- ₹600 में होगी अब जांच, कई जांच हुई मुफ्त ₹600 में कोरोना कि केजीएमयू...

Recent Comments

%d bloggers like this: