बीजेपी नेता ने सीओ एस डी एम की मौजूदगी में युवक की गोली मारकर की हत्या

हत्या
  • बीजेपी नेता के द्वारा गोली मारकर युवक की हत्या से गुस्साए लोगों ने बीजेपी नेता के ऊपर भी हमला

  • बीजेपी नेता ने ताबड़तोड़ गोलियां चला कर की निहत्थे युवक की हत्या

लखनऊ बलिया में कोटे की दुकान को लेकर चल रही खुली बैठक के दौरान और पुलिस अधिकारियों की मौजूदगी में बीजेपी नेता ने तबातोड़ गोलियां चला कर भरी महफिल में एक युवक को मौत की नींद सुलाकर हत्या कर दिया। बताया जा रहा है कि युवक को भाजपा नेता ने 4 गोलियां मारी थी जिसके चलते युवक की मौके पर मौत हो गई। कोटे की दुकानों को लेकर चल रही इस बैठक में बताया जा रहा है कि अचानक ही बीजेपी नेता ने कई राउंड गोलियां चलाकर युवक की हत्या कर दी। वही बताया गया है कि हत्यारा बीजेपी नेता सैनिक प्रकोष्ठ बीजेपी का जिलाध्यक्ष है। वही बैठक के दौरान बीजेपी नेता द्वारा युवक को तबातोड़ गोलियां मारकर हत्या करने पर वहां पर मौजूद लोगों ने लाठी डंडा और पत्थरों से बीजेपी नेता के ऊपर हमला बोल दिया। इस हमले में बीजेपी नेता भी घायल हो गया है। जैसे ही इस बात की घटना आला अधिकारियों की हुई तो आला अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए फौरन मौके पर तमाम आला अधिकारी पहुंचने लगे बताया जा रहा है कि घायल युवक को जब नजदीकी हॉस्पिटल ले जाया गया तो वहां पर इलाज के दौरान युवक ने दम तोड़ दिया और डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

फोन पर नहीं की बात, प्रेमी ने प्रेमिका को चाकू से किया घायल, खुद को उतारा मौत के घाट

Bjp
बीजेपी नेता ने ताबड़तोड़ गोली मारकर जहा युवक की हत्या पुलिस अधिकारी की मौजूदगी में की तो वहीं दूसरी तरफ इस मामले की जानकारी जैसे ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को हुई तो उन्होंने तुरंत ही इस पर कार्रवाई करते हुए वहां पर मौजूद सभी पुलिस अधिकारियों समेत एसडीएम को भी सस्पेंड कर दिया है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हत्यारोपी भाजपा नेता पर भी कड़ी कार्यवाही के आदेश दिए हैं। वही बताया गया है कि बलिया के ग्राम सभा दुर्जनपुर व हनुमानगंज की दो कोटे की दुकानों का आवंटन के लिए पंचायत भवन में एक खुले में बैठक की गई थी। जिसमें एसडीएम बेरिया सुरेश पाल सिंह बेरिया चंद केश सिंह के साथ थाने की पुलिस फोर्स भी मौके पर मौजूद थे।वही इन दोनों दुकानों के लिए 4 स्वयं सहायता ग्रुपों ने आवेदन किया था। बताया जा रहा है कि दोनों कोटे की दुकानों के लिए आपसी सहमति न बन पाने की वजह से मतदान कराने का निर्णय लिया गया था और कहां गया था जिसके पास पहचान पत्र होगा वही मतदान में हिस्सा ले पाएगा। जिसके बाद बताया गया की एक पछ के पास पहचान पत्र मौजूद था लेकिन दूसरे के पास कोई भी पहचान पत्र नहीं था। जिसको लेकर दोनों पक्षों के बीच जम कर विवाद शुरू हो गया। विवाद को देखते हुए वहां पर मौजूद अधिकारियों ने बैठक की कार्यवाही को स्थगित कर दिया था। वही मौके पर मौजूद पुलिस दोनों पक्षों को समझाने बुझाने में भी जुट गई थी इसी दौरान जमकर नारेबाजी भी होने लगी और लाठी-डंडों तक की नौबत आ गई। कहा जा रहा है कि मौके पर मौजूद सैनिक प्रकोष्ठ बीजेपी के नेता धीरेंद्र ने दूसरे पक्ष के युवक जयप्रकाश पर कई राउंड गोलियां चला दी जिससे मौके पर अफरातफरी का माहौल बन गया। वही गोली लगने से मची अफरा-तफरी के बीच युवक को लोग सीएचसी लेकर पहुंचे जहां पर डॉक्टरों ने युवक को मृत घोषित कर दिया बीजेपी नेता के द्वारा गोली मारकर युवक की हत्या से गुस्साए लोगों ने बीजेपी नेता के ऊपर भी हमला बोल दिया।

मरीज से बोला स्वास्थ कर्मी,गोली मार देंगे तुम्हे-मरीज ने लगाया आरोप,कोरोना टेस्ट में होती वसूली..

वही कोटे की दुकानों के लिए खुले में चल रही बैठक के दौरान बीजेपी नेता द्वारा गोली मारकर युवक की हत्या किए जाने से जहां एक तरफ राजनीतिक गलियारों में हलचल मच गई तो वहीं दूसरी तरफ हत्यारोपी बीजेपी नेता को पुलिस ने हिरासत में भी ले लिया है। बताया जा रहा है कि हत्यारोपी धीरेंद्र भाजपा का जहा नेता है तो वहीं इलाके के भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह का भी बहुत करीबी बताया जा रहा है। वही अपने बयानों में अक्सर चर्चा में रहने वाले बीजेपी विधायक ने घटना को कैजुअल्टी करार देते हुए कहा ऐसी घटनाएं कहीं भी हो सकती हैं।विधायक ने कहा इस मामले में कानून अपना काम कर रहा है और करेगा। साथ ही इस घटना को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गंभीरता से लेते हुए जहा पुलिस के आला अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया तो वही मौके पर मौजूद एसडीएम सुरेश चंद्र पाल के साथ क्षेत्राधिकारी चंद्रेश सिंह और मौके पर मौजूद सभी पुलिस कर्मियों को भी सस्पेंड कर दिया है। साथ ही घटना में दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करने के आदेश भी मुख्यमंत्री ने दिए हैं। वहीं पुलिस अधीक्षक ने इस मामले पर बताया कि मृतक युवक के भाई ने 4 लोगों के नामजद और 15 से 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। जिसको देखते हुए आगे की तफ्तीश की जा रही है साथ ही मामले की गंभीरता को देखते हुए पूरे इलाके में पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया है और फिलहाल शांति बनी हुई है इलाके में।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *