Home उत्तर प्रदेश कोविड19- छठ पर्व पर व्रती महिलाओं को होगी परेशानी, गंगा ने 10...

कोविड19- छठ पर्व पर व्रती महिलाओं को होगी परेशानी, गंगा ने 10 घाटों से बनाई दूरी

  • कोविड19- छठ पर्व पर व्रती महिलाओं को होगी परेशानी, गंगा ने 10 घाटों से बनाई दूरी

  • व्रती महिलाओं को छठ पर्व पर उठानी पड़ी परेशानी-गंगा ने 10 घाटों से बनाई दूरी-Covid19

गाजीपुर (Gazipur) जिले में डाला छठ पर्व के मद्देनजर शांति व सुरक्षा के बीच सम्पन्न कराने के लिए जिला प्रशासन कमर कस ली है। दरअसल नगर पालिका परिषद क्षेत्र के 34 गंगा घाटों पर लाखों महिलाओं श्रद्धालु छठ पर्व को मनाते है। लेकिन इस  बार गंगा के 34 घाटों में से 10 घाटों से गंगा तकरीबन 500 से 600 मीटर की दूरी बना ली है। इन 10 गंगा घाटों के बीच जिला प्रशासन द्वारा वैकल्पिक पुल का निर्माण करा रही है। ताकि छठी मईया (chahat puja) की पूजा करने वाली ब्रती महिलाओं समेत अन्य श्रद्धालुओं को कोई परेशानी न हो सके। वहीं छठ पूजा करने वाले श्रद्धालु गंगा घाट (Ganga Ghat) पर पहुंच कर जायजा भी ले रहे है। श्रद्धालुओं में   भ्रम भी है कि क्या पता गंगा घाटों पर छठ पूजा होगा की नहीं। फिलहाल कोविड 19 (Covide19) को लेकर जिला प्रशासन द्वारा छठ पूजा के मद्देनजर अभी तक कोई गाइड लाइन भी नहीं जारी किया गया है।

International Men’s Day 2020-पुरुष दिवस क्या है-कब से इसको मनाया गया

Ganga
बता दें कि नहाय खाये से लेकर डूबते व उगते सूर्य की पूजा करने का रिवाज बिहार (Bihar) से शुरू हो कर अब पूरे देश मे फैल चुका है। चार दिनों तक चलने वाला छठ पर्व (Chahta Parv) को लेकर श्रद्धालु काफी उत्साहित है। जनपद गाजीपुर में भी छठ पूजा करने वालों की संख्या लाखों में है जनपद में छठ पूजा करने वाले जहां ग्रामीण इलाकों में नहर पोखरे व तालाबों के किनारे करते हैं वहीं शहरी इलाकों में गंगा किनारे छठ पूजा (Chhath Puja) करने की परंपरा रही है। अगर हम नगरपालिका इलाके की बात करें तो नगर पालिका इलाके में कुल 34 गंगा घाट पड़ते हैं। जिसकी देखरेख की पूरी जिम्मेदारी नगर पालिका को है जिसमें से 10 गंगा घाट (Ganga Ghat) जो ददरी घाट से शुरू होकर पत्थर घाट तक जाता है। इन गंगा घाटों पर गंगा ने अपना पूर्व निर्धारित स्थान छोड़कर गंगा करीब 400 से 500 मीटर की दूरी पर बह रही है और जहां पहले गंगा बहती थी वहां पर गंदे नाले का पानी बह रहा है। जिसे पार कर कर ही व्रती महिलाएं गंगा तक पहुंच सकती हैं । जिसके चलते इस बार इन घाटों पर आने वाली महिलाओं को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसी को ध्यान में रखकर नगर पालिका ने इन सभी घाटों पर अस्थाई पुल का निर्माण करा रहा है। लेकिन यह पुल आने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ को कितना इस नाले से पार करा पाएगा यह तो समय ही बताएगा। वहीं अगर हम कोविड-19 की बात करें तो उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा इसको लेकर गाइडलाइन जारी कर दिया गया है लेकिन जिला प्रशासन के द्वारा अभी तक कोई भी गाइडलाइन जारी नहीं होने की वजह से व्रती महिलाएं काफी असमंजस की स्थिति में है कि उन्हें इस बार छठ की पूजा कहा और कैसे करना है। जिसकी जानकारी के लिए महिलाए गंगा घाट पहुच कर जानकारी लेने का प्रयास कर रही है।

Read-नेहा कक्कड़ ने पति रोहनप्रीत के साथ शेयर की अपने बेडरूम से हनीमून का वीडियो:-देखे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

गोदी मीडिया को किसानों के खिलाफ फेक प्रोपेगेंडा चलाना पड़ा महंगा-किसानों ने जलील कर भगाया

गोदी मीडिया को किसानों के खिलाफ फेक प्रोपेगेंडा चलाना पड़ा महंगा-किसानों ने जलील कर भगाया फेक प्रोपेगेंडा चला रहे टीवी चैनलों के रिपोर्टरों...

अमेठी-जमीन के चंद टुकड़ों के खातिर भतीजे और भाई ने अपने चाचा का किया कत्ल

अमेठी-जमीन के चंद टुकड़ों के खातिर भतीजे और भाई ने अपने चाचा का किया कत्ल भाई-भतीजे ने जमीन के चंद टुकड़ों के खातिर बीच...

Love jihad-लव जिहाद पर पहला मुकदमा हुआ बरेली में दर्ज-पिता ने दी तहरीर

Love jihad-लव जिहाद पर पहला मुकदमा हुआ बरेली में दर्ज-पिता ने दी तहरीर लव जिहाद पर बरेली में दर्ज हुआ पहला केस-नया अध्यादेश...

राजधानी में आइटम क्वीन राखी सावंत कुछ इस अंदाज में आई नजर-तवायफ के सेट पर

राजधानी में आइटम क्वीन राखी सावंत कुछ इस अंदाज में आई नजर-तवायफ के सेट पर लखनऊ मे तवायफ के सेट पर कुछ इस...

Recent Comments

%d bloggers like this: