Home कारोबार बस्ती-माँडल क्रय केन्द्रों का किसानों ने किया विरोध, बिचौलियों के बीच फस जायगा...

बस्ती-माँडल क्रय केन्द्रों का किसानों ने किया विरोध, बिचौलियों के बीच फस जायगा किसान

  • बस्ती माँडल क्रय केन्द्र का किसानों ने किया विरोध, बिचौलियों के बीच फस जायगा किसान

  • किसानों ने किया मॉडल क्रय केंद्र का विरोध-किसी भी हालत मे नही होने देंगे लागू

बस्ती जनपद मे पेराई सत्र शुरू होने से पहले ही गन्ना किसानों (Farmers) की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है चीनी मिल (Shuger mila) प्रबंधन की नीतियों से किसानों के होश उड़ गये है। गन्ना किसानों का आरोप है कि चीनी मिल प्रबंधन की गलत नीतियों से यदि मॉडल क्रय केंद्र स्थापित हुए तो घटतौली व बिचौलियों के बीच में किसान फँस कर परेशान हो जाएगा। गन्ना किसानों ने इसको लेकर जिले के सभी अधिकारियों (Officer) से पूर्व की भांति गन्ना क्रय केंद्र स्थापित करने के लिए शिकायती पत्र दिया है। इस संबंध में जिला गन्ना अधिकारी ने कहा कि किसानों की समस्या (Farmers Problem) को ध्यान में रखकर  निर्णय लिया जाएगा। अभी इस प्रकार केवल चीनी मिल्स प्रबंधन की तरफ से आदेश हुआ है हमारी तरफ से ऐसा कोई आदेश नहीं है। यदि भविष्य मे इस प्रकार का कोई आदेश होता है तो किसानों के हितों को ध्यान मे रखकर ही कोई फैसला लिया जायेगा।

Love Jihaad: मध्य प्रदेश के बाद अब-यूपी में भी लागू होगा लव जेहाद कानून

किसान
बस्ती मे आगमी पेराई सत्र मे चीनी मिलों की ओर से 23 क्रय केन्द्रों को बंद कर माँडल क्रय केन्द्रों को व्यवस्था की गई है। इस तरह यदि चीनी मिले गन्ना क्रय केन्द्र को माँडल बनाकर गन्ना खरीद करती है तो इससे कमजोर व छोटे किसानों का गन्ना नहीं बिकेगा और बिचौलियों का पूरे सेटर पर कब्जा हो जायेगा और बिचौलियों के बीच किसान फँसकर लूटते नजर आयेगें। किसानों ने कहा कि आये दिन घटतौली व जाम की समस्या से गन्ना क्रय केन्द्रों पर कई दिनों तक किसानों के गन्नो का तौल भी नही हो पायेगें। बस्ती जिले के सहकारी गन्ना समिति विक्रमजोत के लगभग 23 गन्ना क्रय केन्द्रों की बहाली के लिए किसानों संग डेलीगेट और डायरेक्टर के साथ समिति के चैयरमैन ने सभागार मे बैठक की है।
Lucknow-छठ पूजा के मद्देनजर जॉइंट कमिश्नर ने घाटों का किया निरीक्षण-अधिकारियों को दिया निर्देश
चेयरमैन प्रतिनिधि अरविंद सिह ने चीनी मिलों की ओर से माँडल क्रय केंद्र के प्रस्ताव का जोरदार विरोध करते हुये कहा कि यदि सरकार व चीनी मिल अपना आदेश वापस नही लेती है तो हम किसानों संग बडे आंदोलन को करने के लिए बाध्य होगें। चेयरमैन प्रतिनिधि अरविंद सिह ने बताया कि बभनान चीनी मिल ने 16 व रौजागाँव चीनी मिल ने 6 गन्ना क्रय केन्द्रों को बन्द कर दिया है।यह चीनी मिल का प्रस्ताव किसी भी तरीके से किसानों के हित मे नही है इसलिए इसको किसी भी स्थिति मे लागू नही होने देगें। चीनी मिल पहले की तरह सभी गन्ना क्रय केन्द्रों का संचालन करते हुए माँडल क्रय केन्द्र बनाने का आदेश वापस लें। जिससे किसान अपना गन्ना सुगमता से क्रय केन्द्रों पर  बेच सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

गोदी मीडिया को किसानों के खिलाफ फेक प्रोपेगेंडा चलाना पड़ा महंगा-किसानों ने जलील कर भगाया

गोदी मीडिया को किसानों के खिलाफ फेक प्रोपेगेंडा चलाना पड़ा महंगा-किसानों ने जलील कर भगाया फेक प्रोपेगेंडा चला रहे टीवी चैनलों के रिपोर्टरों...

अमेठी-जमीन के चंद टुकड़ों के खातिर भतीजे और भाई ने अपने चाचा का किया कत्ल

अमेठी-जमीन के चंद टुकड़ों के खातिर भतीजे और भाई ने अपने चाचा का किया कत्ल भाई-भतीजे ने जमीन के चंद टुकड़ों के खातिर बीच...

Love jihad-लव जिहाद पर पहला मुकदमा हुआ बरेली में दर्ज-पिता ने दी तहरीर

Love jihad-लव जिहाद पर पहला मुकदमा हुआ बरेली में दर्ज-पिता ने दी तहरीर लव जिहाद पर बरेली में दर्ज हुआ पहला केस-नया अध्यादेश...

राजधानी में आइटम क्वीन राखी सावंत कुछ इस अंदाज में आई नजर-तवायफ के सेट पर

राजधानी में आइटम क्वीन राखी सावंत कुछ इस अंदाज में आई नजर-तवायफ के सेट पर लखनऊ मे तवायफ के सेट पर कुछ इस...

Recent Comments

%d bloggers like this: