Home कानून व्यवस्था व्रती महिलाओं ने भगवान भास्कर को अर्घ्य देकर अपने को व्रत को...

व्रती महिलाओं ने भगवान भास्कर को अर्घ्य देकर अपने को व्रत को किया पूरा

  • व्रती महिलाओं ने भगवान भास्कर को अर्घ्य देकर अपने को व्रत को किया पूरा

  • छठ महापर्व का आज उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही हुआ समापन-व्रती महिलाओं ने पूरा किया व्रत

प्रतापगढ़-छठ महापर्व Chhath Pooja का आज उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही समापन हो गया।  कठिन व्रत को उठाने वाली महिलाएं और पुरुषों ने आज सुबह नदी तट पर सूर्य की पहली किरणों के साथ भगवान भास्कर को अर्घ्य देकर अपने इस कठिन व्रत को पूरा किया। भगवान सूर्य देव के इंतजार में सई नदी में खड़ी व्रती महिलाओं की तरफ से बार-बार यही अनुरोध किया जा रहा था, हे भगवान भास्कर जल्द निकलिए और हमारे इस कठिन व्रत को पूर्ण कर हमें आशीर्वाद प्रदान कीजिऐ। छठ महापर्व Chhath Puja का आज उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही समापन हो गया है।  कठिन व्रत को उठाने वाली व्रती महिलाएं और पुरुषों ने आज सुबह बेल्हा देवी सई नदी के तट पर सूर्य की पहली किरणों के साथ भगवान सूर्य को अर्घ्य देकर अपने इस कठिन व्रत को पूरा किया है।

बैंक के लाकर से गायब हुआ करोड़ों का सोना-चाबी लगाई तो लाकर का ताला टूट कर गिरा नीचे

व्रती
महिलाओं ने पूर्ण किया छठ कड़ा व्रत रखने के बाद श्रद्धालुओं ने कार्तिक शुक्ल सप्तमी शनिवार को उगते सूर्य को अर्घ्य देकर अपने इस व्रत को पूर्ण किया है। प्रतापगढ़ के मां बेल्हा देवी सई नदी के तट पर, वरुणा और अन्य कुंड तालाबों पर छठ व्रत Chhath Pooja का अंतिम अर्घ्य देने के लिए आस्था का जन सैलाब उमड़ा था। शुक्रवार की शाम अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य देकर महिलाओं ने अपने इस व्रत को आधा पूर्ण किया था, और शनिवार की सुबह उदयीमान सूर्य को अर्घ्य देकर अपने इस व्रत को पूर्ण कर भगवान भास्कर से व्रती महिलाओं और पुरुषों ने सर्व मंगल की कामना की।महिलाओं ने पूर्ण किया छठ व्रत Chhath puja.महिलाओं ने पूर्ण किया छठ व्रत.धीरे-धीरे आसमान में बढ़ी लालिमा और आये सूर्य देवशनिवार की सुबह जैसे-जैसे अर्घ्य का वक्त नजदीक आता गया वैसे-वैसे महिलाओं के अंदर उत्साह और उमंग बढ़ता चला गया।
सपा MLC के फ्लैट में चली गोली-एक की हुई मौत 4 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार-लखनऊ
भगवान सूर्य की लालिमा आसमान में नजर आई तो हर हर महादेव का जयघोष और छठी मैया के जय के जय घोष के साथ लोगों ने गंगा में डुबकी लगाना शुरू कर दिया. लगभग 1 घंटे पहले ही महिलाएं जल में उतर गईं थी। महिलाओं ने डुबकी लगाकर भगवान सूर्य का इंतजार करते हुए भीषण ठंड में भी पानी में खड़े होकर यह साबित कर दिया कि आस्था हमेशा सर्वोपरि है. उसके आगे कुछ भी नहीं दिखता। शायद यही वजह है कि  के निर्जला व्रत के कारण पहले ही महिलाओं के अंदर न सिर्फ उत्साह दिखाई दिया, बल्कि उनके चेहरे पर एक चमक भी देखने को मिली. वहीं इस बार कोविड-19 की वजह से तमाम रोक-टोक के बावजूद भी मां बेल्हा देवी सई नदी  घाटों पर जबरदस्त भीड़ उमड़ी और आस्था पूरी तरह से कोविड-19 पर भारी दिखाई दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

गोदी मीडिया को किसानों के खिलाफ फेक प्रोपेगेंडा चलाना पड़ा महंगा-किसानों ने जलील कर भगाया

गोदी मीडिया को किसानों के खिलाफ फेक प्रोपेगेंडा चलाना पड़ा महंगा-किसानों ने जलील कर भगाया फेक प्रोपेगेंडा चला रहे टीवी चैनलों के रिपोर्टरों...

अमेठी-जमीन के चंद टुकड़ों के खातिर भतीजे और भाई ने अपने चाचा का किया कत्ल

अमेठी-जमीन के चंद टुकड़ों के खातिर भतीजे और भाई ने अपने चाचा का किया कत्ल भाई-भतीजे ने जमीन के चंद टुकड़ों के खातिर बीच...

Love jihad-लव जिहाद पर पहला मुकदमा हुआ बरेली में दर्ज-पिता ने दी तहरीर

Love jihad-लव जिहाद पर पहला मुकदमा हुआ बरेली में दर्ज-पिता ने दी तहरीर लव जिहाद पर बरेली में दर्ज हुआ पहला केस-नया अध्यादेश...

राजधानी में आइटम क्वीन राखी सावंत कुछ इस अंदाज में आई नजर-तवायफ के सेट पर

राजधानी में आइटम क्वीन राखी सावंत कुछ इस अंदाज में आई नजर-तवायफ के सेट पर लखनऊ मे तवायफ के सेट पर कुछ इस...

Recent Comments

%d bloggers like this: