ताहिर
  • पूर्व कांग्रेस नेता शेख ताहिर हुए नागरिक एकता पार्टी में शामिल, बनाए गए पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष

  • कई अन्य पार्टी के नेता हुए नागरिक एकता पार्टी में शामिल-पूर्व कांग्रेस नेता शेख ताहिर बने प्रदेश अध्यक्ष

लखनऊ प्रेस क्लब में पूर्व कांग्रेस नेता एवं बहुजन मुस्लिम महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रवक्ता शेख ताहिर सिद्दीकी ने अपने संगठन के साथ बड़ी संख्या में अपने समर्थकों के साथ नागरिक एकता पार्टी में शामिल हुए है। इस अवसर पर पार्टी के राष्ट्रीय संरक्षक और पूर्व IAS श्रीराम बहादुर रावत ने प्राथमिक सदस्यता दिलाई साथ ही ताहिर सिद्दीकी को उत्तर प्रदेश का अध्यक्ष घोषित किया। इस अवसर पर उन्होंने प्रेस को सम्बोधित करते हुए कहा कि नागरिक एकता पार्टी की समतावादी, मानवतावादी व लोकतांत्रिक जीवन मूल्यों में गहरी आस्था है। वही समाज के शोषित, वंचित, दलित, मुसलमान व पिछड़े वर्ग को सामाजिक व आर्थिक न्याय दिलाने वाली नीतियों से प्रभावित होकर ताहिर सिद्दीकी जी पार्टी में शामिल हुए हैं I इसके साथ उन्होंने कहा कि गत महीनों सरकार द्वारा लिए गए गलत फैसलों का ताहिर सिद्दीकी जी ने खुलकर विरोध किया और संविधान बचाने के लिए सड़क से सदन तक आन्दोलन करने के जुर्म में कई गंभीर धारायें लगीं व दो-दो महीने जेल में रखा गया। ऐसे क्रांतिकारी नौजवान से उम्मीद है कि ये पार्टी की नीतियों को सफल बनाते हुए पार्टी के संगठन को मजबूत करेंगे।

पुराने लखनऊ में कांग्रेस ने किया जनसम्पर्क-कई अन्य पार्टी के नेता हुए शामिल

मुस्लिम
इस अवसर पर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मो० शमीम ने नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष को शुभकामनाएं दीं तथा कई दलों से आये पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को पार्टी में शामिल किया है। जिसमें प्रमुख रूप से बहुजन मुस्लिम महासभा यूथ विंग के प्रदेश अध्यक्ष नसीम सिद्दीकी, प्रदेश सचिव मोहम्मद अस्मतउल्ला, जिला अंबेडकर नगर के सपा समर्थक डॉक्टर स्वालेह अंसारी, कांग्रेस नेता मोहम्मद मारूफ पूर्व पार्षद प्रत्याशी वार्ड न्यू हैदरगंज द्वितीय आम आदमी पार्टी सय्यद रूबील अहमद पूर्व कांग्रेस नेत्री शबीह फातिमा सपा नेत्री गुलनाज बानो बाराबंकी से सपा समर्थक अतीकुन निशा उन्नाव से सपा नेता डॉक्टर जुनैद संडीला हरदोई से एआईएमआईएम के पदाधिकारी कुतुबुद्दीन बसपा कार्यकर्ता प्रीती गौतम को पार्टी की सदस्यता दिलाते हुए कहा कि आज किसान, नौजवान, व्यापारी, दलित, पिछड़े व मुसलमान सभी परेशान हैं महगांई व कर्ज से त्रस्त किसान आत्महत्या कर रहे हैं।

कांग्रेस स्थापना दिवस पर गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने जा रहे कांग्रेसियों को रोका गया

नागरिक
सरकार किसानों की खेती को कारपोरेट के हाथों गिरवी रखने पर मजबूर कर रही है। वर्तमान समय में जो कृषि कानून आया है इससे किसानों का हक और सम्मान दोनों छिन जायेगा, यही कारण है कि किसान आन्दोलन कर रहे हैं। समय आ गया है प्रदेश में नफ़रत व द्वेष की राजनीति बंद होनी चाहिए। सरकार का सबका साथ, सबका विकास व सबका विश्वास वाले नारे में यदि सच्चाई है तो उसे चाहिए कि 2008 में प्रस्तुत रंगनाथ मिश्रा आयोग की सिफारिशों को शत प्रतिशत लागू करें अन्यथा उसका नारा नहीं दिखावा है।

शामली:लुटेरी दुल्हन ने नशीला पदार्थ खिलाकर-प्रेमी संग लाखो के जेवर के साथ हुई फरार

इस अवसर पर बहुजन मुस्लिम महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष वली मोहम्मद एवं पार्टी के महासचिव रिजवान अहमद, मीडिया प्रभारी मो० अनीश, राष्ट्रीय सचिव नईम अंसारी व नगर अध्यक्ष सलमान मंसूरी, जिलाध्यक्ष बाराबंकी विजय शंकर मौर्य, मोहनलालगंज विधानसभा अध्यक्ष मुकेश रावत सहित भारी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

सलमान खान का 55 वां जन्मदिन रॉयल फैमिली बेगमात ने मनाया-लम्बी उम्र की दुआ

By shiraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *