स्वदेशी
  • स्वदेशी कोवैक्सिन और कोविशील्ड को DGCI से मिली मंजूरी-अब नही कोरोना से डरने की जरूरत

  • DGCI ने स्वदेशी कोवैक्सिन और कोविशील्ड को दी मंजूरी-कोरोना से नही रही अब डरने की जरूरत

आखिरकार देश को कोविड से लड़ने के लिये दो स्वदेशी वैक्सीन को इजाजत मिल गई  स्वदेशी कोवैक्सिन और कोविशील्ड को DGCI से मिली मंजूरी-अब नही कोरोना से डरने की जरूरत बताया जा रहा है कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड के साथ भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन को ड्रग कंट्रोलर जरनल ऑफ इंडिया (DCGI) ने आपात स्थिति मे इस्तेमाल करने की मंजूरी दे दी है। यही नही तीसरी कोरोना वैक्सीन जाइकोव-डी को भी क्लिनिकल ट्रायल की मंजूरी भी दे दी गई है। इसी के साथ ही वैक्सीन को लेकर उठ रहे सवालों पर DCGI के निदेशक वीजी सोमानी ने कहा है कि इससे कोई डरने की बात नही है जैसे सभी वैक्सीन लगाने के बाद हलके बुखार और चक्कर जैसी बाते होना आम है वैसे ही इस वैक्सीन मे है। और यह बेहद सुरक्षित है इससे किसी को घबराने की जरूरत नही है।

कोरोना वैक्सीन में कुछ ऐसा हो जिससे आबादी कम या नपुंसक बनाने की कोशिश की जाए-सपा MLC

कोविशील्ड
जहा एक तरफ कोरोना ने देश मे अपने पाव पसार रखे है तो ऐसे समय मे यह वैक्सीन का आना कहि ना कहि राम बाण साबित होती हुई नजर आ रही है। कोविड कि वैक्सीन को मंजूरी देने के बाद देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा है कि यह गर्व की बात है कि जिन दो वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दी गई है, वे दोनों मेड इन इंडिया हैं। यह आत्मनिर्भर भारत के सपने को पूरा करने के लिए हमारे वैज्ञानिक समुदाय की इच्छाशक्ति को दर्शाता है। वह आत्मनिर्भर भारत, जिसका आधार है- सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामया।

सम्भल-मंदिर तोडे जाने पर हिन्दू संगठन ने पाकिस्तान का फूंका पुतला जताया आक्रोश

इसके अलावा सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के CEO अदार पूनावाला ने भी पीएम का शुक्रिया अदा किया है और कहा है कि आने वाले कुछ दिनों में कोविशील्ड इस्तेमाल के लिये सभी के लिये उपलब्ध रहेगी। लेकिन अभी भारत बायोटेक की स्वदेशी कोरोना वैक्सीन को आपात स्थिति मे केंद्र ने इजाजत तो दे दी है लेकिन DGCI की मंजूरी मिलना बाकी है। वही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा है कि पहले चरण में तीन करोड़ लोगो को मुफ्त में टीका लगाया जायेगा और किसी भी प्रोटोकॉल से कोई भी समझौता नही किया जायेगा।

 Corona

मतदाता नामावली में गड़बड़ी-322 नाम मे सिर्फ 15 नाम को किया शामिल-बीएलओ ने किया प्रदर्शन

कोरोना वैक्सीन को लगाने की तैयारियों में अब सरकार जुट गई है यही नही देश मे 6 वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है। जिसमें कोविशील्ड जो कि पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के द्वारा और कोवैक्सिन भारत बायोटेक द्वारा विकसित किया जा रहा है। यह दोनों टीका स्वदेेेशी हैै। फिलहाल अब कोरोना का दंश झेल रहे भारत को अपनी खुद की कोरोना वैक्सीन मिल गई है जिसका लाभ जल्द से जल्द भारतीय लोग भी उठा पायगे।

कुशीनगर-टीचर ने ही किया अपने स्टूडेंट का अपरहण-पुलिस ने सकुशल किया मासूम बच्चे को बरामद

By shiraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *