फरवरी
  • यूपी बोर्ड परीक्षा से जुड़ी बड़ी ख़बर-इंटरमीडिएट की प्रैक्टिकल परीक्षा 3 फरवरी शुरू

  • इंटरमीडिएट की प्रैक्टिकल परीक्षा 3 फरवरी शुरू-यूपी बोर्ड परीक्षा से जुड़ी बड़ी ख़बर

लखनऊ यूपी बोर्ड परीक्षा से जुड़ी बड़ी ख़बर सामने आई है। जहाँ बताया जा रहा है कि यूपी बोर्ड इंटरमीडिएट की प्रैक्टिकल परीक्षा 3 फरवरी से होगी आयोजित दो चरणों में होगी सत्र 2021 की इंटरमीडिएट की प्रैक्टिकल परीक्षा पहले चरण की परीक्षा 3 फरवरी से 12 फरवरी तक आयोजित होगी। तो वही दूसरे चरण की परीक्षा 13 फरवरी से 22 फरवरी तक होगी। पहले चरण में आगरा, सहारनपुर, बरेली, लखनऊ, झांसी, चित्रकूट, फैजाबाद, आजमगढ़, देवीपाटन तथा बस्ती मण्डल की प्रैक्टिकल परीक्षाएं होंगीं।

प्रियंका गांधी के संघर्ष और जनसंपर्कों वाले दस लाख कैलेंडर भेजे गए यूपी

इंटरमीडिएट
दूसरे चरण में अलीगढ़, मेरठ, मुरादाबाद, कानपुर, प्रयागराज, मिर्जापुर, वाराणसी और गोरखपुर मण्डल की प्रैक्टिकल परीक्षा होगीं। साथ ही शिक्षा विभाग ने आदेश जारी किया है कि प्रैक्टिकल परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे अनिवार्य रहेंगें परीक्षा की रिकॉर्डिंग भी परीक्षा केंद्र के प्रधानाचार्यों को सुरक्षित रखना होगा। यही नही हाईस्कूल की प्रैक्टिकल परीक्षाएं आंतरिक मूल्यांकन प्रोजेक्ट कार्य के आधार पर आयोजित होंगी यूपी बोर्ड के सचिव दिव्य कांत शुक्ल ने दी जानकारी
माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा एक प्रेस नोट जारी करते हुए बताया है कि प्रयागराज द्वारा संचालित वर्ष 2021 की इण्टरमीडिएट की प्रयोगात्मक परीक्षाएँ निम्नांकित कार्यक्रमानुसार दो चरणों में उनके सम्मुख अंकित मण्डलों में आने वाले जनपदों की सम्पन्न करायी जायेंगी। 03 फरवरी, 2021 से 12 फरवरी, 2021 तक आगरा, सहारनपुर बरेली, लखनऊ, झांसी, चित्रकूट, फैजाबाद, आजमगढ़, देवीपाटन तथा बस्ती द्वितीय चरण – फरवरी,2021 से 22 फरवरी,2021 तक अलीगढ़, मेरठ, मुरादाबाद, कानपुर, प्रयागराज, मिर्जापुर, वाराणसी तथा गोरखपुर प्रयोगात्मक परीक्षाओं के संबंध में अन्य आवश्यक जानकारी तथा परीक्षकों की नियुक्ति आदि की सूचना परिषद के सम्बन्धित क्षेत्रीय कार्यालयों से प्राप्त होंगी। इण्टरमीडिएट के प्रयोगात्मक विषयों में निर्धारित पूर्णाक में से पचास प्रतिशत अंक आन्तरिक परीक्षक द्वारा तथा पचास प्रतिशत अंक वाह्य परीक्षक द्वारा देय होगा।
बोर्ड
इसी प्रकार व्यक्तिगत परीक्षार्थियों के लिए जो विद्यालय प्रयोगात्मक परीक्षा हेतु केन्द्र निर्धारित किये जायेगें उन विद्यालयों से सम्बन्धित विषयों के अध्यापक द्वारा पचास प्रतिशत अंक आन्तरिक मूल्यांकन व्यवस्था के अन्तर्गत प्रदान किये जायेगें शेष पचास प्रतिशत अंक वाह्य परीक्षक द्वारा देय होगें। इण्टरमीडिएट परीक्षा हेतु पंजीकृत समस्त संस्थागत् तथा व्यक्तिगत परीक्षार्थियों की अनिवार्य विषय नैतिक योग, खेल एवं शारीरिक शिक्षा की प्रयोगात्मक परीक्षाएं विद्यालय स्तर पर प्रधानाचार्य द्वारा सम्पादित करायी जायेंगी। कोविङ-19 से बचाव की समस्त गाइडलाइन्स को अपनाते हुए सोशल डिस्टेन्सिंग के साथ प्रयोगात्मक परीक्षायें आयोजित करायी जायेंगी।
परीक्षाओं की शुचिता को बनाये रखने के उद्देश्य से
प्रधानाचार्यों को प्रयोगात्मक परीक्षायें सीसीटीवी की निगरानी में सम्पादित कराना होगा। साथ ही परीक्षाओं से सम्बन्धित रिकार्डिंग प्रधानाचार्य द्वारा सुरक्षित रखी जायेंगीं और उन्हें मांगने पर परिषद के सम्बन्धित क्षेत्रीय कार्यालय को उपलब्ध कराया जाना होगा। हाईस्कूल की प्रयोगात्मक परीक्षाएं गत वर्ष की भाँति विद्यालय स्तर पर आन्तरिक मूल्यांकन प्रोजेक्ट कार्य के आधार पर सम्पादित करायी जायेंगी।
हाईस्कूल के व्यक्तिगत परीक्षार्थी अपने अग्रसारण केन्द्र के प्रधानाचार्य से सम्पर्क कर प्रयोगात्मक परीक्षा में सम्मिलित होने की कार्यवाही सुनिश्चित करें। हाईस्कूल की प्रयोगात्मक परीक्षा (आन्तरिक मूल्यांकन), नैतिक खेल एवं शारीरिक शिक्षा तथा इण्टरमीडिएट की खेल एवं शारीरिक शिक्षा के प्राप्तांक विद्यालयों के
प्रधानाचार्य के माध्यम से परिषद की वेबसाइट www.upmsp.edu.in पर ऑनलाइन अपलोड किये जायेगें। इस कार्य हेतु दिनांक 25 जनवरी,2021 से वेबसाइट क्रियाशील हो जायेगी।

तांडव वेब सीरीज पर विद्वेष फैलाने, अशांति फैलाने जैसी तमाम धाराओं में दर्ज हुआ मुकदमा

By shiraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *