सड़क
  • अलीगढ़: कन्यादान में दी गई सड़क नहीं बनने से, गांव से नहीं शहर से विदा होगी दुल्हन।

  • डीएम द्वारा आदेश के बाद भी गाँव की सड़क नही बनने के चलते-गांव से नहीं शहर से विदा होगी दुल्हन

जहाँ एक ओर अधिकारियों के द्वारा प्रशासन की छवि बनाने के लिए तमाम तरह के प्रयास किये जाते है। जिससे शासन से लेकर प्रशासन तक की छवि आम जनता के बीच अच्छी बन सके। जिसको लेकर अधिकारियों के द्वारा समय समय पर ऐसे बहुत से काम करवाने के आदेश दिए जाते है। लेकिन अधिकारियों के दिये गए आदेश आम जनता के बीच तक जाकर जमीनी स्तर पर कितना सही साबित हो पाते है ये अहम बात है।

लखनऊ: बुजुर्गो और महिलाओ से ठगी करने वाले चार ठग गिरफ्तार-क्राइम ब्रांच बताकर करते थे ठगी

गाँव
अपनी शादी से कुछ दिन पूर्व सड़क बनवाने की मांग को लेकर डीएम से मिली इगलास के गांव नगला चूरा की करिश्मा की आज शादी है। लेकिन सड़क नहीं बन पाई, जिसके लिए उसने डीएम के यहाँ गुहार लगाई थी।

मुरादाबाद: भाजपा नेता के दुकान पर पोस्टर चस्पा-लिखा बीजेपी के गुंडा नेता से बचायें-इच्छा मृत्यु की मांग

दरअसल पूरा मामला जिला अलीगढ़ के तहसील इगलास के गांव नगला चूरा का है। जहां की रहने वाली करिश्मा के द्वारा अलीगढ़ जिलाधिकारी मुख्यालय पर जाकर करिश्मा के द्वारा बताया गया कि गांव की सड़क की हालत काफी बदहाल है। गांव में जलभराव की समस्या लगी रहती है। गांव में कोई बारात किसी के घर तक नहीं पहुँच पाती है। गांव की वो गालियां जहां सिर्फ कच्चे रास्ते है जिनमे पानी भरा रहता है वहा से गुजरा लोगो के लिये बहुत मुश्किल है।

ABP न्यूज़ के रिपोर्टर ने किसान मंच से दिया इस्तीफा- सच नहीं दिखाए जाने के कारण उठाया कदम-वीडियो वायरल

करिश्मा के द्वारा बीते माह गांव की सड़कों की बदहाली की शिकायत करते हुए कहा था कि उनकी खुद की शादी 27 फरवरी की है। शादी से पहले अगर सड़क बन जाये तो उनकी बारात उनकी दहलीज तक पहुँच सकती है। जिसको लेकर जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह के द्वारा अधीनस्थ अधिकारियों को आदेश करते हुए तत्काल करिश्मा के गांव की सड़क को बनवाते हुए जल भराव की समस्या को दुरुस्त करने का आदेश दिया गया था। जिसको लेकर अधीनस्थ अधिकारियों द्वारा करिश्मा के गांव का निरीक्षण किया और महज 7 दिन के अंदर 3 लाख 98 हजार की लागत से सड़क निर्माण कार्य करवाकर जल भराव की समस्या से ग्रामीणों को निजात दिलाई।

शाहजहांपुर-पति रोज़ करता था सेक्स इसलिए पी लिया सेनीटाइज़र-पत्नी हॉस्पिटल में एडमिट

वहीं आज  करिश्मा की शादी के दिन जमीनी हकीकत जानने की कोशिश की गई तो पता चला जिलाधिकारी अलीगढ़ के यहां करिश्मा के द्वारा जो शिकायत की गई थी उसमें करिश्मा के द्वारा गुहार लगाई गई थी कि गांव के अंदर जाने वाले रास्ते में जलभराव की समस्या बनी रहती है। जिसके कारण कोई भी बारात गांव के अंदर तक नहीं जा पाती। लेकिन अधीनस्थ अधिकारियों द्वारा खाना पूर्ति करते हुए करिश्मा के घर के बाहर की गली को ही बनवाया गया है। लेकिन गांव से अंदर की ओर प्रवेश करने वाले रास्ते में आज भी जलभराव की समस्या है।

नेपाल से भारत हो रही पेट्रोल और डीजल की तस्करी, दोनों देश की फोर्स रोकने में नाकाम

शादी
करिश्मा और परिजन के साथ साथ ग्रामीणों का साफ तौर पर कहना था। बारात कहाँ से आएगी, गांव के अंदर! यहाँ तो जलभराव की समस्या पहले की तरह ही है। इगलास के अधिकारियों के द्वारा सिर्फ छोटी गली को इंटरलॉकिंग करवाया गया है। वहीं करिश्मा के परिजनों के द्वारा जानकारी देते हुए बताया उनके बारात पक्ष के लोगों का कहना था सड़क तो बनी नहीं, अब शादी गाँव से नही शहर अलीगढ़ के निजी गैस्ट हाउस से ही करना, वहीं शादी के दौरान भी सड़क ना बनने से करिश्मा के चेहरे पर मायूसी साफ तौर पर देखने को मिल रही थी।

“मैं विकास दुबे कानपुर वाला” नाम का गाना सोशल मीडिया पर वायरल-पुलिस ने दर्ज की F.I.R

वहीं पूरे मामले पर तहसीलदार सौरव यादव के द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया करिश्मा के द्वारा जिलाधिकारी के यहां जो प्रार्थना पत्र दिया था उसको तत्काल प्रभाव से महज चन्द दिनों में पूरा कर दिया गया है। पहले करिश्मा के घर के बाहर गंदगी के अम्बार लगे रहते थे लेकिन अब साफ सफाई देखने को मिल रही है। अब करिश्मा का परिवार खुश है। लेकिन अगर परिवार की माने तो जलभराव की समस्या वैसे की वैसे बनी हुई है।

बाबा रामदेव की झूठ की WHO ने खोली पोल, कोरोनिल को नही दी कोई मंजूरी

By shiraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *